शुक्रिया दोस्तों,

श्री बी एस पाबला अंकल और आप सभी का बहुत बहुत शुक्रिया, जिन्होंने मुझे इतना प्यार दिया.

Raavendra Kumaar Ravi
आज मेरे जन्मदिन पर रवि अंकल ने मेरे लिए एक बहुत ही प्यारा गीत रचा है.

शुक्रिया रवि अंकल.

 
4  

लविज़ा सबसे प्यारी!

छम-छम करती आज सलोनी
आई सुबह सुहानी!
जन्म-दिवस है उसका, जिसकी
हँसी बहुत मस्तानी!
जिसे देखकर आ जाती है
हर मन में ख़ुशहाली!
नाच-नाचकर गाते हैं मन
ख़ुशियों की कव्वाली!
कव्वाली में गूँज रही है
सबसे मधुर कहानी!
जन्म-दिवस है … … .
जिसके आने से बगिया की
महक उठे फुलवारी!
कहता है हर फूल जहाँ में
लविज़ा सबसे प्यारी!
है जिसकी हर अदा निराली
परियों की जो रानी!
जन्म-दिवस है … …
.

मेरे और मेरे परिवार की तरफ से एक बार फिर से मुझे इतना प्यार और आशीर्वाद देने के लिए बहुत बहुत शुक्रिया


– आपकी लवी