आज-कल कलरिंग का शौक चढ़ा हुआ है. हर वक़्त कलर पेंसिल और कलर बुक मेरे पास ही होती है. रात को मम्मा जब सुलाने की कोशिश करती हैं, तो भी मुझे कलर ही करना होता है 🙂

और हम अगर कहीं बाहर जा रहे होते हैं, तो मैं घर से निकलने से पहले ही फरमाईश कर देती हूँ कि मुझे मार्केट से कलर बुक और पेंसिल चाहिए..

उस दिन भी जब हम न्यू मार्केट गए थे, वहाँ से मैंने कलर बुक और पेंसिल ली, और आते ही मैंने कैसी चित्रकारी की, इस विडियो में देखिये… 🙂

अच्छी है ना ?

अरे रुकिए जा कहाँ रहे हैं, ये भी तो देखिये मेरे चित्रकारी करने से पहले ये कलर बुक कैसा था ?  🙂

Laviza with Color Book   Laviza with Color Book

आप विडियो देखिये, मैं चली कलर्स करने… बाय बाय….

– आपकी लविज़ा