mothersday

कल भारत सहित दुनिया के कई देशों में मदर्स डे मनाया जायेगा.

यह दिन हम अपनी माँ के प्रति अपनी श्रद्धा और आभार प्रकट करने के लिए मनाते है. हमारी माएँ हमारे लिए जो त्याग और समर्पण करती है, हमें बड़ा करने के लिए जो जतन करतीं हैं उसका आभार प्रकट करने के लिए तो साल के 365 दिन भी कम होते हैं. पर ये दिन खास तौर पर उनको समर्पित होता है.

मदर्स डे हर साल मई के दुसरे रविवार को मनाया जाता है. दुनिया के कई अन्य हिस्सों में ये दिन अलग अलग तिथियों में मनाया जाता है. पर किसी भी दिन मनाया जाए कहीं भी मनाया जाए माँ के प्रति श्रद्धा दुनिया के हर हिस्से में एक समान ही होती है.

कल तो मैं अपनी मम्मी को डिनर पर लेकर जाउंगी और उनको उनकी फेवरिट आइसक्रीम भी खिलाने वाली हूँ, और उनकी फेवरिट चाट पापड़ी और नुक्कड़ पर मिलने वाली पानी पूरी जो उनको सबसे ज्यादा पसंद है.

आई लव यू मॉम. ये सॉंग मेरी तरफ से आपके लिए.

मैं तो ये सब करने वालीं हूँ और आप लोग क्या कर रहें है ? नहीं सोचा अभी….. आप ऐसा क्यूँ नहीं करते…..

अगर आप कहीं बाहर, अपनी माँ से दूर रहते हैं तो उन्हें फ़ोन करें या उनके पास जाएँ और उनको बताएं कि आप उनसे कितना प्यार करते हैं, और आपको उनकी कितनी फिक्र है.

अपनी माँ के साथ बैठ कर अपने बचपन कि यादें ताजा करें, याद करें कि कैसे वो आपको गलती करने पर भी पापा की डांट से बचा लेतीं थीं.

उन्हें कहीं घुमाने या डिनर पर ले जाएँ. उनको उनकी मनपसंद चीजें दें. उन्हें यकीन दिलाएं की आज भी आपके जीवन की पहली प्रेमिका और पहली स्त्री वही हैं.

अगर उनके पास जाना मुमकिन ना हो पाए तो उनको चंद लाइनें लिख कर एक कार्ड भेजें.

– मदर्स डे पर लिखी एक पुरानी पोस्ट